Header Ads

.

विकास भवन, अम्बेडकरनगर के मीटिंग हालमें “दहेज प्रतिषेध अधिनियम विषय" पर विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया


अंबेडकर नगर
*विकास भवन, अम्बेडकरनगर के मीटिंग हालमें “दहेज प्रतिषेध अधिनियम विषय" पर विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया*
उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, लखनऊ द्वारा प्रेषित प्लान आफ एक्शन 2021-22 के अनुपालन
में एवं राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली एवं उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, लखनऊ के
निर्देशानुसार भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर आयोजित "आजादी का अमृत महोत्सव" मनाये जाने
के क्रम में पद्म नारायण मिश्र,  जनपद न्यायाधीश/ अध्यक्ष, जिलाविधिकसेवाप्राधिकरण,अम्बेडकरनगरकेनिर्देशानुसार आज दिनांक 05.10.2021 को विकास भवन, अम्बेडकरनगर के मीटिंग हालमें “दहेज प्रतिषेध अधिनियम विषय" पर विधिक साक्षरता शिविर का  आयोजन कोविड-10
महामारी के दृष्टिगत शासन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अंतर्गत सावधानीपूर्वक किया गया। इस विधिक
साक्षरता शिविर में प्रियंका सिंह, सचिव, जिला विधिक सेवाप्राधिकरण,अम्बेडकरनगर जिला कार्यक्रमअधिकारी, अम्बेडकरनगर के सहयोग से किया गया। उक्त शिविर में वरिष्ठ अधिवक्ता रामचन्द्रवर्मा राजेशयादव,सी0डी0पी0ओ0,बलरामसिंह,सी0डी0पी0ओ0 भीटी के साथ-साथ, आंगनबाडी कार्यकत्री संध्यादूबे, मधु त्रिपाठी, मंजूलता वर्मा, रंजना देवी आदि एवं मीडियाकर्मी उपस्थित रहेशिविर को सम्बोधित करते हुये प्रियंका सिंह, सचिव, जिलाविधिकसेवाप्राधिकरण, अम्बेडकरनगरने दहेज प्रतिषेध अधिनियम विषय पर सम्बोधित करते हुये बताया कि घरेलू हिंसा दुनिया के लगभग हर
समाज में मौजूद है। इस शब्द को विभिन्न आधारों पर वर्गीकृत किया जा सकता है। पति या पत्नी, बच्चों या
बुजुर्गों के खिलाफ हिंसा कुछ सामान्य रूप से सामने आये मामलों में से कुछ है। पीड़ित के खिलाफहमलावर द्वारा अपनाई जाने वाली विभिन्न प्रकार की रणनीति है। शारीरिक शोषण, भावनात्मक शोषण,
मनोवैज्ञानिक दुर्व्यवहार या वंचितता, आर्थिक अभाव/ शोषण आदि घरेलू हिंसा न केवल विकासशील देशों की
समस्या है बल्कि यह विकसित देशों में भी बहुत प्रचलित है। सभ्य समाज में हिंसा का कोई स्थान नहीं होना चाहिये। लेकिन हर साल तेजी से बढ़ते हुये आंकड़े चिंता का विषय है। घरेलू हिंसा में महिलायें और बच्चेअक्सर सॉफ्ट टारगेट होते हैं। भारतीय समाज में स्थिति वास्तव में भीषण है। केवलघरेलूहिंसाकेपरिणामस्वरूप, दैनिक आधार पर बड़ी संख्या में मौतें हो रही है। सरकार ने घरेलू हिंसा अधिनियम को भी बनाया और लागू किया है।इसके अतिरिक्त जिला सूचना विभाग के सहयोग से जनपद के अकबरपुर तहसील क्षेत्र केअन्तर्गत रूकुनुददीनपुर, बरसावां हासिमपुर, टाण्डा तहसील के अन्तर्गत ग्रामपंचायत–हरैया, व मसढ़ा मोहनपुर ग्राम पंचायत में मोबाईल प्रचार वैन पर विधिक जागरूकता से सम्बन्धित वीडियो क्लिप काप्रसारणएल0ई0डी0स्क्रीन के माध्यम से करते हुए जनपद के आमजन को विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा चलाई जा रही योजनाओं एवंगतिविधियों के सम्बन्ध में अवगत कराया गया।इसके साथ ही साथ दिनांक 05.10.2021 को अन्तर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस के अवसर पर राजकीय
रमाबाई डिग्री कालेज, अम्बेडकरनगर व राजकीय इण्टर कालेज,अम्बेडकरनगर में विधिक साक्षरता शिविर काआयोजन करते हुये शिक्षकों का सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।

No comments