Header Ads

.

*कोरोना काल में इम्युनिटी बढ़ाने के लिए फलों की मांग चरम पर*

अंबेडकर नगर
*कोरोना काल में इम्युनिटी बढ़ाने के लिए फलों की मांग चरम पर*
अंबेडकरनगर। कोरोना काल में इम्युनिटी बढ़ाने के लिए फलों की मांग चरम पर है। इसी का फायदा उठाकर व्यापारी लोगों की जेब पर डाका डाल रहे हैं। खासकर विटामिन-सी से भरपूर खट्टे फलों के दाम आसमान छू रहे हैं। आम दिनों में जो संतरा 40 से 50 रुपये में बिकता था, आज वह खुदरा में 120 से 140 प्रति किलो के भावl बिक रहा है।मंडी में भी भाव में बहुत ज्यादा अंतर नहीं है। इन फलों की गुणवत्ता को लेकर भी सवाल हैं, लेकिन अपनी सेहत की सुरक्षा के लिए आमजन इसे खरीदने पर मजबूर है। थोक व्यापारी बाहर से माल न आने की शिकायत कर रहे हैं, लेकिन जो उनके पास मौजूद है, उसे इतने ऊंचे दाम में क्यों बेच रहे हैं, इस सवाल का जवाब देने वाला कोई नहीं है। जिम्मेदार अधिकारी भी इस तरफ ध्यान नहीं दे रहे।कई गुना बढ़े नींबू के दाम: नींबू में विटामिन सी बहुतायत में पाया जाता है। कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए डाक्टर इसे काफी गुणकारी बताते हैं। वैसे भी सही हाजमे के लिए आमतौर पर इसका इस्तेमाल किया जाता है। ऐसे में बाजार में इसकी मांग सबसे ज्यादा है। कुछ दिनों पहले 50 रुपये प्रति किग्रा बिकने वाला नींबू वर्तमान में 200 रुपये किलो मिल रहा है। अनानास का भी यही हाल है। एक तो बाजार में है नहीं, दूसरे है भी तो बहुत महंगा।संतरा बाजार से गायब: इम्युनिटी बढ़ाने वाले फल संतरा और कीवी बाजार से गायब हैं। फल विक्रेता रतीराम ने बताया कि पहले 20 रुपये में बिकने वाली कीवी 100 रुपये पीस बिक रही है। संतरे का भी यही हाल है। अपने रंग से ज्यादा उसके भाव लाल हैं। फल मंडी में भी इसकी कीमत 110 रुपये से नीचे नहीं है। ऊपर से ताजा भी नहीं है। छोटी बाजारों में इसकी उपलब्धता भी नहीं हैव्यपारी बताते हैं कि इन दिनों हम लोगों को ही 1800 रुपये में एक गत्ता कीवी बामुश्किल मिल रहा है।

No comments