Header Ads

.

*लॉकडाउन की सख्ती पर प्रशासन बेपरवाह, बाजारों में उमड़ रही जम के भीड़*

अंबेडकर नगर
*लॉकडाउन की सख्ती पर प्रशासन बेपरवाह, बाजारों में उमड़ रही जम के भीड़*
अंबेडकरनगर। कोरोना की चेन तोड़ने के लिए आंशिक लॉकडाउन घोषित तो कर दिया गया, लेकिन जिले में इसका सख्ती से पालन कराने की सुध जिम्मेदारों को नहीं है।बृहस्पतिवार को जिला मुख्यालय से लेकर जिले के अन्य क्षेत्रों में जगह-जगह लॉकडाउन का उल्लंघन होता नजर आया। न सिर्फ बड़ी संख्या में छोटे-बड़े वाहन सड़कों पर दौड़ते नजर आए, बल्कि कई क्षेत्रों में मेडिकल स्टोर के अलावा अन्य दुकानें भी खुली हुई थीं। सड़कों पर चल रहे कुछ ऐसे लोग भी दिखे, जिन्होंने मास्क तक नहीं लगा रखा था।प्रदेश में लगातार सामने आ रहे कोरोना संकमित मरीजों को देखते हुए कोरोना की चेन तोड़ने के लिए प्रदेश सरकार ने आंशिक लॉकडाउन घोषित कर रखा था। गत दिवस ही लॉकडाउन बढ़ाकर 10 मई की सुबह 7 बजे तक कर दिया गया। साथ ही जिम्मेदारों को निर्देशित भी किया गया कि लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जाए। अनायास घर से बाहर निकलने वालों पर कार्रवाई हो, तो बगैर मास्क वालों पर भी जुर्माना लगाया जाए। तमाम दिशा निर्देशों के बावजूद जिले में लॉकडाउन का शत-प्रतिशत पालन कराने की सुध जिम्मेदारों को नहीं हो रही है।बृहस्पतिवार कोजिलेकेविभिन्नक्षेत्रोंमेंकदम-दर-कदम लॉकडाउन का उल्लंघन होता दिखा। प्रमुख बाजारों व प्रमुख मार्गों पर सुबह से ही छोटे-बड़े वाहन दौड़ते नजर आए, तो जगह-जगह लोग भी घरों से बाहर निकले। इनमें कुछ लोग ऐसे भी जिन्होंने मास्क तक नहीं लगा रखा था। लॉकडाउन का पालन कराने के लिए प्रमुख बाजारों व प्रमुख मार्गों पर जगह-जगह बैरियर तो लगाए गए और वहां पुलिसकर्मी भी तैनात थे, लेकिन लॉकडाउन का पूरी तरह से पालन कराने को लेकर उनके द्वारा कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा था। लोग बेधड़क होकर आसानी के साथ बैरियर पार कर रहे थे।इतना ही नहीं, जिले के कई क्षेत्रों में मेडिकल स्टोर के अलावा भी कई अन्य प्रकार की दुकानें खुलीं। मंगलवार को दिन में न सिर्फ अकबरपुर नगर, बल्कि कई अन्य क्षेत्रों में कुछ दुकानें खुलीं, लेकिन जिम्मेदारों ने इसे लेकर कोई सुध नहीं ली। उधर, एडीएम डॉ. पंकज कुमार वर्मा ने बताया कि लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। एएसपी संजय कुमार ने बताया कि लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। जगह-जगह लगे बैरियरों पर पुलिस पूरी तरह मुस्तैद है।

No comments