Header Ads

.

*मुर्दे को लगाया ऑक्सीजन जिला अस्पताल की लापरवाही आई सामने।*

*चिकित्सकों और अस्पताल प्रशासन की लापरवाही से मरीज की मौत,सरकारी दावे हवाहवाई* ।

 *मुर्दे को लगाया ऑक्सीजन जिला अस्पताल की लापरवाही आई सामने।*

 *अंबेडकरनगर* ।इस कोरोनाकाल में प्रदेश सरकार भले ही मरीजों को बेहतर सुविधा देने की बात कर रही हो लेकिन अस्पतालों में हालात कुछ और ही है,अस्पताल कर्मी अपनी जिम्मेदारियों को कितनी लापरवाही से निभा रहे हैं इसका ताजा उदाहरण जनपद अंबेडकरनगर के जिला अस्पताल  में जाने वाले मरीज के तीमारदार खुद बया कर रहे हैं।मामला गोसाईगंज जनपद अयोध्या का है, मोहल्ला कटरा निवासी ह्रदयराम कश्यप की पत्नी का अचानक सांस फूलने की तकलीफ होने पर उपचार के लिए तत्काल जिला अस्पताल अंबेडकरनगर ले जाया गया जहां पर मरीज को तुरंत उपचार न देकर अस्पताल परिसर में मरीज को स्ट्रेचर पर रखकर तीमारदार को घंटो दौड़ाया गया इसी दौरान जब मरीज ने तड़फते हुए दम तोड़ दिया,तब अस्पताल प्रशासन की नीद खुली और खानापूर्ति करते हुए मृत शरीर को ऑक्सीजन लगा दिया गया जिसपर मृतक के परिजन दुखी थे ही अस्पताल प्रशासन के इस कृत्य पर और दुखी हो गए और मजबूर होकर किसी तरह मृत शरीर को वापस लेकर चले आए।इस तरह की घटना अंबेडकरनगर जिला अस्पताल में आम बात हो गई है।लेकिन प्रदेश सरकार आंखे बंद करके बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध होने की बात कहकर खुद अपनी ही पीठ थपथपा रही है।अब कोरोंना काल में पीड़ित मरीजों को अस्पताल प्रशासन से इस तरह की उम्मीद करने से बेहतर है की खुद को भगवान भरोसे छोड़ दिया जाए,अधिकतर अस्पतालों में सिर्फ मौत मिल रही है,जिम्मेदार अपनी जिम्मेदारी से भाग रहे है।आगे और भी उदाहरण मिलता रहेगा।👇

No comments