Header Ads

.

भोली भाली जनता की जीवन भर की कमाई को हड़पनेमें जुटे प्लॉटिंग माफिया, अवैध कॉलोनी बसाने वाले प्लॉटिंग कारोबारियों पर प्रशासन मौन

भोली भाली जनता की जीवन भर की कमाई को हड़पने
में जुटे प्लॉटिंग माफिया, अवैध कॉलोनी बसाने वाले प्लॉटिंग कारोबारियों पर प्रशासन मौन


शाहाबाद - शहर में कॉलोनाइजर्स की एक नई फौज तैयार हो चुकी है।सरकारी जमीनों से लेकर कब्रिस्तान तक में अवैध कॉलोनी बनाकर बेचना इनका सगल बन गया है।नगर में जगह - जगह इन कॉलोनाइजर्स द्वारा नियमों को दरकिनार कर प्लॉटिंग की जा रही है ।इन कॉलोनाइजर्स के बहकावे में आकर इन अवैध कॉलोनियों में प्लाट खरीदकर  लोग अपने जीवन भर की गाढ़ी कमाई बर्बाद कर रहे हैं।नियमानुसार कॉलोनी बनाने के लिए लेआउट पास कराना होता है।जिसके तहत 60%जमीन पर पार्क,सामुदायिक  शौचालय, बिजलीघर बनाने के लिए जगह छोड़ी जाती है शेष 40%जमीन पर प्लॉटिंग की जाती है।लेकिन ज्यादा कमाई के लालच में कॉलोनाइजर लेआउट पास कराये बिना ही प्लाट बेचना शुरू कर देते हैं।ऐसी कॉलोनियों में किसी भी तरह का निर्माण अवैध होता है।अब ऐसे में प्लाट खरीदकर जानकारी के अभाव में लोग अपनी बिल्डिंग बना लेते है।तो ऐसे में नगरपालिका ऐसे  अवैध निर्माण पर बुल्डोजर चलाने के लिए बाध्य होगी।
अब ऐसे में इस खबर का हमारा एकमात्र उद्देश्य आपलोगों को जागरूक करना है कि आपलोग अपने जीवन भर  की कमाई इन प्लॉटों में ना लगाए।शाहाबाद नगर में  कई जगहों पर जिसमें विशेष तौर पर बेझा रोड से लेकर हरियाली बाजार तक कई जगहों पर अवैध कॉलोनी में प्लॉट बेचने का कारोबार प्रशासन की नाक के नीचे  फलफूल रहा है इन प्लॉटिंग माफियाओं ने कमीशन पर प्लॉट बेचने के लिए दलाल तय कर रखे हैं।4%  प्रति प्लॉट कमीशन लेकर यह दलाल प्लाटों की बिक्री के अवैध कारोबार में मदद करते हैं नगर में इस समय लगभग दो दर्जन प्लॉटिंग माफिया सक्रिय हैं जो गैंग बनाकर इस कार्य को अंजाम दे रहे हैं।एक कॉलोनी को बसाने में कॉलोनाइजर्स का पूरा एक ग्रुप शामिल होता है ग्रुप में शामिल सभी कॉलोनाइजर्स मिलकर प्लॉटों की बिक्री करते हैं।  
वहीं प्रशासन  का कहना है कि मामला हमारे संज्ञान में नहीं है अधिकारियों से रिपोर्ट मांगकर इस पर कार्रवाई करेंगे। जनता के धन को हड़पने वाले  माफियाओं को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा।

No comments