Header Ads

.

नशे की हालत में आरोपितों ने किया था अतुल खरे का कत्ल इससे पहले जमीन के एक टुकड़े को लेकर आरोपितों से हो चुका था विवाद

नशे की हालत में आरोपितों ने किया था अतुल खरे का कत्ल इससे पहले जमीन के एक टुकड़े को लेकर आरोपितों से हो चुका था विवाद
 डाक्टर के भाई की हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, चार आरोपित गिरफ्तार
अयोध्या। नगर निगम क्षेत्र के हसनू कटरा इलाके में चिकित्सक के बड़े भाई की हत्या का खुलासा पुलिस ने कर दिया है। शराब के नशे में आरोपितों ने कत्ल करके शव को जलाने का प्रयास किया था। चिकित्सक ने मामले में आरोपी पर ही शक जाहिर करते हुए मुकदमा पंजीकृत कराया था। हत्या के आरोप में पुलिस ने चार आरोपितों को गिरफ्तार करते हुए कत्ल में प्रयुक्त समान को बरामद कर लिया है।
         प्रेस वार्ता के दौरान एसएसपी ने बताया कि अतुल खरे के पास काफी जमीन थी। जिसे वह बेच रहे थे। आदित्य उनके घर के बगल में था। उनकी कुछ जमीन को वह खरीदना चाहता था। जिसे वह बेच नहीं रहे थे। जिसको लेकर विवाद हुआ। जिसमें आदित्य ने अपने साथियों की सहायता ने उनकी हत्या करके शव को ठिकाने लगाने का प्रयास किया। 
     सीओं सिटी अरविंद चौरसिया ने बताया कि आरोपितों ने हत्या से पहले अतुल खरे के घर के पीछे एक छोटे से कमरे में शराब पी थी। इसके बाद मिथलेश ने उनके उपर बोतल से प्रहार किया। जिसमें वह घायल हो गये। नशे की हालत में सभी थे। इसमें आदित्य के एक साथ ने उनके गले में चाकू भोंक दिया। जिसे आदित्य ने उनके गले में दबा लिया। हत्या करने के बाद खून ज्यादा न फैले इसके लिए इन लोगो ने इनके चेहरे पर आटा लगा दिया। फिर रामजी रावत की सहायता से शव को ठिकाने लगाने के लिए कार में रखकर निकले। घटना के बाद आदित्य फरार हो गया। 
      पुलिस जब सीसीटीवी की जांच कर रही थी तो आदित्य के घर में सीसीटीवी लगा था। परन्तु डीवीआर गायब था। फोन से बाद होने पर आदित्य अपनी सही लोकेशन नहीं बता रहा था। जिससे आदित्य पर शक गहरा गया। पूछताछ में आदित्य ने अपना गुनाह कबूल कर लिया। मामले में आदित्य उर्फ शानू, राहुल रावत, रामजीत रावत व बृजपाल मौर्य को गिरफ्तार किया गया है। मिथलेश अभी फरार है।

No comments