Header Ads

.

आगरा शिक्षा: शिक्षा की गुणवत्ता बिगड़ती जा रही है

आगरा में स्कूलों की फीस को लेकर बवाल मचा हुआ है, इन स्कूलों की पढाई का आकलन इस तरह लगा सकते हैं कि बच्चे को टयूशन पढवाना मजबूरी है।

आगरा के मिशनरी और कान्वेंट स्कूलों के साथ ही पब्लिक स्कूलों की पढाई का स्तर भी गिरता जा रहा है, स्कूल में छात्रों को पढाया जाता है, यह समझ में कम आ रहा है, ऐसे में अभिभावकों को बच्चों की अच्छी पढाई के लिए घर पर टयूशन लगवाना पड रहा है। स्कूल में क्लास टीचर पढाने के बाद होम वर्क दे देती हैं, बच्चों के होम वर्क कराने में अभिभावकों को पसीना छूट रहा है, वे कह रहे हैं कि क्या स्कूल में कुछ पढाया नहीं जा रहा है, कुछ समझ में ही नहीं आता है।
टयूशन हुआ मजबूरी
आगरा में टयूशन इंडस्ट्री बढ चुकी है, नर्सरी से लेकर कक्षा 12 वीं तक के छात्रों के लिए टयूशन पढना मजबूरी हो गया है, स्कूल में जो पढाया जा रहा है, वह उनकी समझ में अच्छी तरह से नहीं आ रहा है।


*रिपोर्ट | भोवन सिंह ब्यूरो चीफ आगरा उ0प्र0*

( *NEWS 24 INDIA न्यूज चैनल*)

No comments