Header Ads

.

67 नियंत्रण क्षेत्र, कोरोना पॉजिटिव मामले 1020 आगरा में

आगरा की पॉश कॉलोनी कोरोना के संक्रमण से मुक्त हो गईं थी, अब यहां दोबारा केस मिलने लगे हैं, इन्हें कंटेनमेंट जोन बना दिया है, अब 67 कंटेनमेंट जोन हैं।
आगरा में कोरोना का सबसे पहले केस दो मार्च को मास्टर प्लान रोड खंदारी में मिला था, ईटली से लौटकर आए जूता कारोबारी भाईयों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद मार्च में 12 केस आए, बाई पास के हॉस्पिटल में विदेश से लौटे डॉक्टर के बेटे की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर कमला नगर क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन बना दिया। ये ठीक होकर घर पहुंच गए, इस तरह कंटेनमेंट जोन बंद कर दिए गए, इसी तरह से शहर के अन्य इलाकों में मरीजों के ठीक होने के बाद कंटेनमेंट जोन बंद कर दिए गए थे। मगर, अब दोबारा से नए मरीज आने के बाद इन्हें कंटेनमेंट जोन बना दिया गया है।
कमला नगर 31 केस, तीन की मौत
कमला नगर क्षेत्र में अभी तक कोरोना के 31 केस आ चुके हैं, यहां 10 जून को अंतिम केस चांदी कारोबारी मिला है, उनकी नोएडा में मौत हो गई, इस तरह चार की मौत हो चुकी है।

खंदारी, 17 केस
खंदारी में पहला केस मास्टर प्लान रोड पर दो मार्च को मिला था, मरीजों के ठीक होने पर कंटेनमेंट जोन बंद कर दिया गया, अप्रैल में आठ केस मिले, जून में भी केस मिले हैं, अभी तक 17 केस मिल चुके हैं।

ताजगंज, 49 केस
ताजगंल क्षेत्र में कोरोना संक्रमित मरीज लगातार मिल रहे हैं, यहां अभी तक कोरोना के 49 केस मिल चुके हैं।

गांधी नगर 38 केस
गांधी नगर का क्षेत्र बहुत छोटा है लेकिन यहां लगातार कोरोना के केस मिल रहे हैं, अभी तक 38 केस मिल चुके हैं।
*रिपोर्ट | भोवन सिंह ब्यूरो चीफ आगरा उ0प्र0*
( *NEWS 24 INDIA न्यूज चैनल*)

No comments