Header Ads

.

छतरपुर जिले के अंदर क्रेशर माफियाओं का ग्राम वासियों के ऊपर खुला आतंक पत्रकार को दे रही है देख लेने की धमकी

*बड़ी खबर*

छतरपुर जिले के अंदर क्रेशर माफियाओं का ग्राम वासियों के ऊपर खुला आतंक पत्रकार को दे रही है देख लेने की धमकी

महेंद्र सिंह ठाकुर
 न्यूज 24 इंडिया ब्यूरो चीफ
छतरपुर

पत्रकारों द्वारा खबरें चलाने से बौखलाए क्रेशर माफिया


जिला छतरपुर मध्य प्रदेश  के चंदला थाना  ग्राम पांडे पुरवा में  आदित्य सिंह  रमेश पाठक की पार्टनर सिप में लगी क्रेशर पर उड़ रही धूल से लोग परेशान हैं और गांव के लोग बीमार हो रहे  हैं तब गांव वालों ने मीडिया पत्रकार बुलाकर न्यूज़ मैं डलवाने की कोशिश की  तो उस 
*क्रेशर के मुनीम बबलू  द्विवेदी व राजेश पटेल के द्वारा दी जा रही है धमकी*

पांडे पुरवा क्रेशर के मुनीम पहले बबलू  द्विवेदी आप राजेश पटेल  के द्वारा धमकी दी जाने तथा सभी मीडिया पत्रकारों पर नकारते हुए वह गुंडागर्दी दिखाते हुए की जैसी बात कही और मारने की भी धमकी दी और वह कह रहे है कि ऐसे मीडिया वाले बहुत आते हैं जो करना हो कर लेना हम अपना बिजनेस दुकान बंद नहीं कर देंगे ज्यादा से ज्यादा होगा हमारा 4000 से ₹5000 खर्च करवा देंगे और क्या होगा
 लेकिन हम तुमको  देख लेंगे मुनीम बबलू द्विवेदी के द्वारा देख लेने की बात कही गई  थी अब राजेश पटेल द्वारा धमकी दी जा रही है पता नहीं मीडिया वालों पर क्या करने वाला है पांडे पुरवा क्रेशर मुनीम बबलू  द्विवेदी व राजेश पटेल का कहना है कि कल से मीडिया पत्रकार चलने लगे बन गए और गले में आई का टांग लिया तो आप कहीं भी जाकर चेक कर सकते हैं क्या कोई अन्य गांव में जाकर चेक करिए हमारे यहां नहीं कल की सी न्यूज़ भारत से संवाददाता दिनेश कुमार पटेल के द्वारा चेक करने नहीं बल्कि गांव के हित के लिए ग्रामवासियों ने बुलाकर अपनी आप बीती पता कर की हमारे घर में क्रेशर की ब्लास्टिंग से हमारे घरों में पत्थर गिरते हैं और क्रेशर के धोऐ से हम ग्राम वासियों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है क्योंकि कोरो ना जैसी गंभीर महामारी फैली हुई है इसलिए हमने उसको बताया और गांव वालों को परेशानी के कारण ऐसा सब कुछ मीडिया पत्रकार वालों से करवाना पड़ रहा है
चंदला विधानसभा 49 के बुंदेलखंड का दिल कहीं जाने वाले पहाड़ों को धारा शाही करने में लगे क्रेशर माफिया हर पहाड़ों के नीचे सदियों से बसे गांव वालों को नजर अंदाज कर आखिर मध्य प्रदेश का शासन प्रशासन किस विकास की ओर लेकर जा रहा है केन नदी की रेत की तरह पहाड़ों पर क्रेशर माफियाओं का चल रहा है  खुला भ्रष्टाचार पुरे विधानसभा क्षेत्र के अंदर

चंद दिनों बाद एशिया में सबसे बड़ी गिट्टी की मंडी कहलाने वालें उत्तर प्रदेश के कबरई को भी पीछे छोड़ने मैं महारत हासिल करने वाला चंदला विधानसभा की जनता प्रदूषण के कारण भागने पर मजबूर होगी या फिर मौत के मुंह मैं समा जाएगी चंद्र माफियाओं के कारण 
गम्भीर विषय।

No comments