Header Ads

.

बड़ा खुलासा:चीन दे रहा है धोखा,सैटेलाइट से हुआ खुलासा,गोगरा की ऊंची पहाड़ियों पर जमीं चीनी फौजें*

*बड़ा खुलासा:चीन दे रहा है धोखा,सैटेलाइट से हुआ खुलासा,गोगरा की ऊंची पहाड़ियों पर जमीं चीनी फौजें*

नई दिल्ली। चालबाज और विश्वासघाती चीन विश्व की आंखों में धूल झोंककर एक तरफ जहां हांगकांग और ताईवान को हड़पना चाहता है,तो वहीं उसकी लालचभरी आंखें लद्दाख पर भी लगीं हुईं हैं। इसलिए एक और चीन शांति के सुर अलापे जा रहा हैं,और हाथी-ड्रैगन के साथ नाचने जैसे बयान दिए जा रहे हैं तो वहीं रात के अंधेरे में चीनी फौजें लद्दाख में लगातार अपने मोर्चे मजबूत कर रही हैं। लद्दाख में चीनी फौजों ने अपनी पोजिशन बदलकर भारत के खिलाफ मोर्चाबंदी कर रही हैं। कुछ चीनी फौजें पहले से ज्यादा ऊंची जगहों पर पहुंच गई हैं। ये वो जगह हैं जो भारत सीमा से कुछ दूर जरूर लेकिन सामरिक तौर अतिमहत्वपूर्ण हैं। यह खुलासा सैटेलाइट से मिली ताजा तस्वीरों से हुआ है।

सैटलाइट से मिली ताजा तस्वीरों से पता चल रहा है कि गोगरा इलाके में चीन ने अपनी सेना बढ़ा भी दी है और वह ऊपर की तरफ भी बढ़ने लगी है। वहीं, भारत भी पूरी तरह से तैयार है और भारतीय सुरक्षाबल चीन के ठीक सामने मुस्तैदी से तैनात हैं। लद्दाख में भारत के कराए निर्माणकार्यों से चीन जबरदस्त बौखलाया गया है।और सेना की ऐक्टिविटी को बढ़ा रहा है।

ओपन सोर्स इंटेलिजेंस अनैलिस्ट Detresfa ने ताजा सैटलाइट तस्वीरें जारी की हैं। इनके मुताबिक चीन की सेना पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने पैंगॉन्ग सो और गोगरा इलाके के ठीक सामने नई पोजिशन ले रखी है। इसे देखते हुए भारत ने यहां अपनी मौजूदा स्थिति के करीब ही और ज्यादा सुरक्षाबल बढ़ा दिया है। वहीं, पैंगॉन्ग सो में बेस एरिया से चीनी यूनिट ऊपर की ओर चढ़ रही है। संभावना है कि यहां टेंट भी लगाए गए हैं। भारत के गोगरा पोस्ट के पास चीन की फौजों ने पोजिशन भी ली है यहां बड़े स्तर पर ऐक्टिविटी चल रही है।
इससे पहले शनिवार को जारी तस्वीरों में Detresfa ने दावा किया था कि PLA भारत के गोगरा बेस से 11 किमी उत्तरपश्चिम की ओर है। उसके मुताबिक यह अब तक की सबसे बड़ी यूनिट है जिसमें कई वीइकल ट्रक्स हैं। उसने साफ किया था कि चीन की सेना भारत की सीमा में दाखिल नहीं हुई है, जैसा कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया था। भारत ने समय रहते अपनी सेना सीमा पर तैनात कर दी थी जिसके बाद PLA का प्लान फेल हो गया था।
दरअसल, लद्दाख में पिछले 2-3 सालों में भारत ने डीबीओ इलाके में जो सड़क बनाई है, उसकी वजह से चीन बेचैन हो रहा है। चीन ने एलएसी के पास करीब 5000 सैनिकों की तैनाती कर रखी है। भारत ने भी वहां पर भारी मात्रा में सैन्य बल तैनात कर दिया है। गालवान नाला एरिया में चीनी सैनिक 114 ब्रिगेड के काफी पास में मौजूद हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक मई के पहले हफ्ते में चीन भारतीय सीमा में ज्यादा अंदर तक घुसने की फिराक में था लेकिन उसकी यह कोशिश बेकार गई। रिपोर्ट- दिलीप कुमार भाष्कर
*News 24 India Ambedkar Nagar*

No comments