Header Ads

.

लॉकडाउन में उद्योग बंद होने से साफ हुई यमुनायमुना नदी में चंबल नदी मिलने से पानी की गुणवत्ता और बढ़ जाती हैदिल्ली, मथुरा, आगरा के प्रदूषित पानी की वजह से दूषित होती है यमुना नदी


करोड़ों रुपये खर्च करके भी नहीं हुआ जो काम वो कोरोनावायरस लॉकडाउन ने किया, यमुना दिखने लगी साफ
आगरा  जिस नदी को बीते 25 साल में 5 हजार करोड़ से ज्यादा पैसे खर्च करके सरकार नहीं साफ कर पाई. उसे कोरोनावायरस लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) ने साफ कर दिखाया है. लॉकडाउन के दौरान यमुना नदी न सिर्फ साफ हुई बल्कि कई दुर्लभ देसी-विदेशी पक्षी भी दिखने लगे हैं. सात राज्य और करीब 1400 किमी लंबी यमुना नदी के साफ पानी में आजकल मछलियां दिख रही है. यही नहीं ग्रे हीरोन, आईबिस पेंटेड स्टार्क जैसे तमाम देसी विदेशी पक्षी अब सालों बाद फिर से यमुना नदी के आसपास दिखने लगे हैं.

No comments