Header Ads

.

कोरोना महामारी के कारण शासन द्वारा पूरे प्रदेश में गुटखा बैन होने के बावजूद भी लॉक डाउन में सप्लाई होने जा रहे गुटखा के जखीरा के साथ एक व्यक्ति को सिकन्दरा आगरा पुलिस ने दबोचा


लाॅकडाउन में सप्लाई होने जा रहा था गुटखा का जखीरा। पुलिस ने 18 बोरे में भरे 2178 गुटखा के पाउच किए जब्त. एक को किया गिरफ्तार. सिकंदरा पुलिस ने भेजा जेल।
कानपुर से लोडिंंग गाड़ी में आ रहा था गुटखा
थाना सिकंदरा पुलिस को सूचना मिली की कानपुर की ओर से एक लोडिंग वाहन में गुटखा का जखीरा सप्लाई के लिए आ रहा है। इस पर थाना सिकंदरा पुलिस ने चैकिंग करना शुरू कर दिया। पुलिस को वाहन आते हुए दिखाई दिया लेकिन पुलिस को देख लोडिंग वाहन चालक गाड़ी को भगा ले जाने का प्रयास करने लगा। इस पर पुलिस ने पीछा कर उसे पकड़ लिया। पुलिस ने मौके से एक अभियुक्त को गिरफ्तार किया है।
2178 गुटखे के पैकेट मिले
पुलिस ने लोडिंग वाहन को चेक किया तो उसके अंदर 18 बोरे थे। जिसके अंदर गुटखा के पाउच भरे हुए थे। पुलिस ने पता किया तो 18 बोरे में 2178 गुटखे के पाउच थे। पुलिस ने बताया कि लाॅकडाउन में गुटखा सप्लाई किए जाने के लिए ले जाया जा रहा था। गिरफ्तार करने वाली टीम में सिकंदरा इंस्पेक्टर अरविंद कुमार, एसआई हरीश चौधरी, अतुल सिंह, कुलदीप मलिक के साथ वीरेंद्र और देवेंद्र मौजूद रहे।
लाॅकडाउन में बैन है गुटखा
गौरतलब है कि कोरोना महामारी के कारण शासन की ओर से पूरे प्रदेश में गुटखा को बैन कर दिया गया है। इसके कारण गुटखे की जमकर कालाबाजारी भी हो रही है। एक गुटखे का पाउच पांच रुपये की जगह 30 रुपये तक में मिल रहा है। गुटखा खाने वाले शौकीनों को लाॅकडाउन में अपना शौक पूरा करने के लिए मुंहमांगी कीमत 

*रिपोर्ट | संध्या सिंह क्राइम रिपोर्टर आगरा*
( *NEWS 24 INDIA न्यूज चैनल*)

No comments