Header Ads

.

प्रयागराज न्यूज़:- ताबड़तोड़ फायरिंग से दहला सराय इनायत का दुबावल**मामूली बात को लेकर हुई दो पक्षों में फायरिंग**तीन घायल, देर शाम तक नहीं आयी कोई तहरीर*

*प्रयागराज न्यूज़:- ताबड़तोड़ फायरिंग से दहला सराय इनायत का दुबावल*
*मामूली बात को लेकर हुई दो पक्षों में फायरिंग*
*तीन घायल, देर शाम तक नहीं आयी कोई तहरीर*
*हनुमानगंज:-* सरायइनायत थाना क्षेत्र का दुबावल गाँव बुधवार लगभग दस बजे गोलियों की तडतडाहट से गूंज उठा मामूली बात को लेकर हुई दो पक्षों फायरिंग में तीन लोग घायल हो गयें सूचना पाकर मौके पर एसएसपी, एसपी गंगापार सहित कई थाने की फोर्स पहुँच गयी मौके से पुलिस ने कुछ लोगों को उठा कर थाने ले आयी किन्तु मामले में देर शाम तक कोई तहरीर नहीं आयी
  सरायइनायत थाना क्षेत्र के दुबावल गाँव में मामूली बात को लेकर दो पक्षों में फायरिंग होने लगी जिसमें गाँव के रामबाबू उम्र 42 वर्ष, राहुल उम्र 22 वर्ष शुभम् उम्र 19 वर्ष घायल हो गये सूचना पाकर मौके पर चौकी इंचार्ज राकेश राय पहुंचे मामला गंभीर होने पर उन्होंने सूचना अधिकारियों को दी थोड़ी देर में मौके पर एसएसपी,एसपी गंगापार नरेंद्र सिंह. क्षेत्राधिकारी फूलपुर उमेश शर्मा, सहित कई थाने की फोर्स पहुँच कर मोर्चा संभाला घायलों को पुलिस ने उपचार के लिए अस्पताल भेज दिया तथा मौके से पुलिस ने दो तीन लोगों को थाने उठा लायी देर शाम तक किसी पक्ष से तहरीर नहीं आयी.।
*दो पत्रकारों को ही पुलिस ले गयी थाने।*
*हनुमानगंज:-* सरायइनायत थाना क्षेत्र के दुबावल गाँव में हुई ताबड़तोड़ फायरिंग की सूचना पाकर मौके पर खबर कवर करने गये क्षेत्रीय पत्रकारों में दो को इस लिए थाने उठा लायी कि मौके पर किसी के पास मीडिया पास और उनका कार्ड नही था क्षेत्र के होने के कारण सूचना मिलते ही पत्रकार जैसे थे वैसे ही पहुँच गये जिसपर कार्यवाही करते हुए पुलिस ने उन्हें थाने उठा लायी पुलिस को जब घटना में लिप्त कोई व्यक्ति नहीं मिला तो पत्रकारों पर कार्यवाही की सुध आ गयी खिसियानी बिल्ली खम्भा ही नोचने लगी।
 *फायरिंग की सूचना पर बाइक लेकर पहुंचे चौकी इंचार्ज।*
*हनुमानगंज:-*  सरायइनायत थाना क्षेत्र के दुबावल गाँव में बुधवार की सुबह हुई ताबड़तोड़ फायरिंग की सूचना पर चौकी इंचार्ज राकेश राय अपनी बुलट पर एक सिपाही लेकर पहुँच गये क्षेत्र की छोटी मोटी घटनाओं पर 112 नम्बर की पुलिस और थाने की जीप या सूमो जाती है किन्तु इन दिनों चौकी इंचार्ज इस व्यवस्था को बदल कर तत्काल मौके पर जैसे ही रहते हैं सक्रियता दिखाते हुए पहुँच जाते हैं इसके पीछे भी लोगों का मानना है कि चौकी इंचार्ज टीम लेकर इस लिए नहीं जाते हैं कि इस की सूचना थाने को भी हो जायेगी तब मेरे हाथ से मामला निकल जायेगा पहले पहुँच कर मामले को अपने अनुसार डील करने का पूरा प्रयास चौकी इंचार्ज द्वारा किया जाता है जब मामला ज्यादा बड़ा रहता है तभी सूचना थाने में दी जाती है।

No comments